Hot Widget

Type Here to Get Search Results !

विवाह प्रमाण पत्र कैसे बनाएं कैसे करे पंजीकरण | Marriage Certificate Form Pdf

नमस्कार दोस्तों अगर आप marriage certificate online या offline बनाना चाहते हैं और विवाह पंजीकरण फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड विवाह प्रमाण पत्र को कैसे बनाएं किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता होने वाली है आप कैसे शादी प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन मैरिज सर्टिफिकेट बनाने की प्रक्रिया क्या है राजस्थान विवाह प्रमाण पत्र पंजीयन फॉर्म कैसे डाउनलोड करें आपको पता नहीं है तो इस आर्टिकल के माध्यम से आपको सभी प्रकार की जानकारियां मिल जाएगी जिससे आपको विवाह प्रमाण पत्र बनाने में आसानी होगी

Rajasthan-Marriage-Certificate

marriage certificate application process


यदि आप भारत के निवासी हैं और आपका विवाह अभी अभी हुआ है तो आपको 30 दिन के भीतर अपना विवाह प्रमाण पत्र बना लेना चाहिए क्योंकि अगर आपने सरकार के द्वारा दी गई निश्चित समय सीमा के अंदर विवाह प्रमाण पत्र नहीं बनाया तो आपको जुर्माना भी देना होगा

आपको इस आर्टिकल के अंत तक विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन कैसे बनाएं एवं विवाह प्रमाण पत्र ऑफलाइन कैसे बनाएं दोनों की जानकारी बताई जाएगी आपको विवाह प्रमाण पत्र बनाने से क्या क्या लाभ होंगे विवाह प्रमाण पत्र बनाने का खर्च कितना होगा एवं मैरिज सर्टिफिकेट बनाने से सरकार के द्वारा हम को किन-किन योजना का लाभ मिलेगा अगर आप मात्र 10 दिन के अंदर विवाह प्रमाण पत्र बनाना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े

विवाह प्रमाण पत्र बनाने का उद्देश


मैरिज सर्टिफिकेट बनाने का कानून 2005 में संसद में पारित बिल के द्वारा किया गया था इस कानून को पारित करने के मुख्य दो उद्देश्य है
1. बाल विवाह को रोकना
2. महिला उत्पीड़न को कम करना

विवाह प्रमाण पत्र बनाने की अवधि


भारत में विवाह प्रमाण पत्र बनाने के लिए भारत सरकार के द्वारा 30 दिन का समय दिया जाता है यानी शादी होने के पश्चात पति पत्नी को 30 दिन के भीतर विवाह प्रमाण पत्र बनाना आवश्यक है अगर 30 दिन के अंदर विवाह प्रमाण पत्र नहीं बनाया जाता है तो प्रत्येक दिन का ₹2 विलंब शुल्क लिया जाता है

यदि किसी नवविवाहित वर-वधू के द्वारा तय सीमा में विवाह पंजीकरण नहीं किया जाता है तो ₹500 का आर्थिक दंड दिया जाता है

विवाह प्रमाण पत्र बनाने के नियम


यदि आप marriage certificate बनाना चाहते हैं तो सरकार के द्वारा बनाए गए नियमों का पालन करना आवश्यक है अन्यथा आपका मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बनेगा

भारत सरकार के द्वारा बनाए गए कानून के अंतर्गत वर की उम्र 21 वर्ष पूर्ण व वधू की उम्र 18 वर्ष पूर्ण होने चाहिए

जरूर जानकारी - यदि किसी भी वर-वधू का विवाह वर का 21 वर्ष वधू के 18 वर्ष से कम उम्र में किया जाता है तो उसे बाल विवाह कहां जाता है इस कानून के उल्लंघन पर 2 से 5 साल की जेल और हजारों रुपए का जुर्माना लग सकता है

विवाह प्रमाण पत्र के लाभ


वैसे तो
मैरिज सर्टिफिकेट बहुत उपयोगी दस्तावेज हैं और इसका उपयोग कहीं जगहों पर किया जाता है जैसे ग्राम पंचायत चुनाव में सरपंच उम्मीदवारी के लिए वार्ड पंच उम्मीदवारी के लिए एवं नए दस्तावेज को बनाने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है

- विवाह प्रमाण पत्र पति - पत्नी के बीच संबंध को बताता है

- वर या वधू के पासपोर्ट के आवेदन के लिए विवाह प्रमाण पत्र होना आवश्यक है

- नवविवाहित वधु के आधार कार्ड से पिता का नाम पिता के घर का पता को बदलने के लिए विवाह प्रमाण पत्र होना आवश्यक है तभी पिता की नाम की जगह पति का नाम आ सकता है एवं पिता के पते की जगह पति के घर का पता आ सकता है

- बैंक में पति-पत्नी का जॉइंट अकाउंट खोलने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है बिना मैरिज सर्टिफिकेट के जॉइंट खाता नहीं खोला जाता है

- पत्नी को पति के संपत्ति का अधिकार दिलाने में भी marriage certificate एक महत्वपूर्ण दस्तावेज

भारत सरकार के द्वारा सभी राज्यों में चलाई जाने वाली सभी योजनाओं को लाभ लेने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती हैं जैसे राजस्थान में राजस्थान मैरिज सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है

- नया राशन कार्ड बनाने में
- पुरानी राशन कार्ड में नाम जोड़ने के लिए विवाह पंजीकरण करवाना आवश्यक है

विवाह प्रमाण पत्र बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज


मित्रों भारत के किसी भी राज्य में शादी का प्रमाण पत्र बनाने के लिए वर और वधु के पास निम्नलिखित दस्तावेज होना आवश्यक है

1. नवविवाहित पति-पत्नी का आधार कार्ड

2. वर के पिता आधार कार्ड - जो वर पक्ष के गवाह के रूप में कार्य करेगा

3. वधु के पिता का आधार कार्ड - जो वधू पक्ष के गवाह के रूप में कार्य करेगा

4. वर वधु के पिता का राशन कार्ड

5. नवविवाहित वर वधु की दोनों की सभी जरूरी दस्तावेज जैसे पेनकार्ड, जाति प्रमाण पत्र, वोटर आईडी कार्ड बैंक पासबुक या 5 वी,10वीं,12वीं, 10वीं, कक्षा की मार्कशीट

6. पासपोर्ट साइज दो फोटो जिसमें पति-पत्नी दोनों साथ होंगे उन्हें आवश्यक है

7. शादी का इनविटेशन कार्ड

विवाह प्रमाण पत्र बनाने की प्रक्रिया

यदि आप मैरिज सर्टिफिकेट को बनाना चाहते हैं तो आप दो तरीके से बना सकते हैं दोनों तरीके ऑनलाइन ही आवेदन है परंतु एक में आपको खुद को आवेदन करना होता है दूसरे में आपको ई मित्र सेवा केंद्र से आवेदन करना होता है

1. विवाह प्रमाण पत्र ऑफलाइन आवेदन
2. विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन आवेदन कैसे करे


सबसे पहले आपको ही मित्र सेवा केंद्र पर जाना होगा ध्यान रहे कि ईमित्र पर जाना होगा वहां पर आपको ई-मित्र संचालक को बताना होगा कि आपको विवाह प्रमाण पत्र बनाना है इसके बाद आपको ईमित्र संचालक के द्वारा आपको आपके राज्य का विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण फॉर्म दिया जाएगा

जिसे आपको सही तरीके से सभी जानकारियों को भरना होगा

इस फॉर्म के साथ आपको ऊपर बताए गए सभी दस्तावेज साथ में लगाने हैं और इस फोन में आपको वकील की नोटरी भी करवानी होती हैं

विवाह प्रमाण पत्र बनाने के लिए नोटरी करवाना जरूरी

यदि आपको विवाह प्रमाण पत्र बनाना है तो आपको वकील की नोट्री करवानी आवश्यक है अगर आप notary नहीं करवाते हैं तो विवाह प्रमाण पत्र नहीं भरा जा सकता है

Vivah Praman Patra banane ke liye notary Kaise karwaye

अगर आपको नहीं पता कि आपको नोटरी कैसे करवानी है तो आपको बता दें कि इसके लिए आपको किसी वकील के पास जाना होगा पर आपको ध्यान रखना है कि वकील के पास जाने से पहले आपको सभी डिटेल भरकर जाना है यदि आप सभी डाक्यूमेंट्स को सही से नहीं भरेंगे सभी जानकारी को सही तरीके से नहीं बनेगी तो वकील के द्वारा आप के डाक्यूमेंट्स की नोटरी नहीं की जाएगी


विवाह प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ( how to apply online for marriage certificate)


दोस्तों अगर आप की शादी फिलहाल ही हुई है तो आपको marriage certificate registration 2021 के लिए आवेदन जरूर करना चाहिए क्योंकि आप कितने आवेदन नहीं करेंगे तो आपकी पत्नी या फिर वधू के जरूरी दस्तावेज बनाने में परेशानी हो सकती हैं भारत में सभी राज्यों में विवाह प्रमाण पत्र बनाने की प्रक्रिया समान होती है

आज हम आपको राजस्थान विवाह प्रमाण पत्र कैसे बनाएं जानकारी बताने वाले हैं इसी तरीके से आप सभी राज्य में शादी का प्रमाण पत्र बना सकते हैं

राजस्थान मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनाएं


यदि आप राजस्थान की निवासी हैं और अभी तक आपने Rajasthan marriage certificate अभी तक नहीं बनाए हैं तो आज हम आपको घर बैठे मैरिज सर्टिफिकेट के लिए आवेदन कैसे करें जुड़ी जानकारी आपको बताने वाले हैं


[ भारत में सभी राज्यों की तरह राजस्थान में भी राजस्थान सरकार के द्वारा विवाह प्रमाण पत्र बनाने की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया है ]

राजस्थान मैरिज सर्टिफिकेट बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें


दोस्तों Rajasthan marriage certificate 2021 बनाने के लिए आपको राजस्थान की विवाह पंजीकरण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा - ( यदि आपके पास मोबाइल हो या कंप्यूटर दोनों सी राजस्थान विवाह पंजीकरण ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं)

राजस्थान-विवाह-प्रमाण-पत्र-के-लिए-ऑनलाइन-आवेदन-कैसे-करे


सबसे पहले आपको अपने मोबाइल की Google Chrome Browser या किसी भी ब्राउज़र में जाना होगा वहां जाने के बाद आपको search बॉक्स में पहचान ( pahchan ) लिखना होगा

( यदि आप किसी अन्य राज्य से हैं तो आपको Vivah Praman Patra aavedan लिखने की बात आप जिस भी राज्य से हैं जैसे राजस्थान के लिए Raj मध्यप्रदेश के लिए Mp एवं उत्तर प्रदेश के लिए Up लिखकर सर्च कर देना है

Marriage-Certificate-Form-PDF-Rajasthan

आपके सामने आपकी राज्य की विवाह पंजीकरण की आधिकारिक वेबसाइट आ जाएगी आपको उस पर क्लिक कर देना है

विवाह-प्रमाण-पत्र -कैसे-बनाएं-कैसे-करे


वेबसाइट का होम पेज आने के बाद आपको विवाह प्रमाण पत्र आवेदन फॉर्म को डाउनलोड करना होगा

विवाह प्रमाण पत्र आवेदन फॉर्म डाउनलोड Pdf कैसे करे


विवाह पंजीकरण की ऑफिशियल वेबसाइट पर आपको PDF Download का बटन दिखाई देगा जिस पर आप को क्लिक करना है जिसके बाद आपके सामने कहीं सारे प्रमाण पत्र की जानकारियां आ जाएंगी जिसमें आपको विवाह प्रमाण पत्र फार्म pdf Rajasthan को डाउनलोड कर लेना है

Rajasthan-Marriage-Certificate-Download

1. विवाह प्रतिवेदन प्रपत्र

2. विवाह पंजीकरण हेतु शपथ पत्र

इन दोनों फोन को आपको करना होगा इसके बाद आपको इससे online करना होगा

मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन कैसे भरें


आपको नीचे आमजन आवेदन प्रपत्र भरने पर क्लिक करना होगा

Marriage-Certificate-Form-Pdf-download

जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने नया पेज खुल कर आ जाएगा जहां पर आपको vivah panjiyan ki sharte और vivah panjiyan kaise banaye जुड़ी सभी प्रकार की जानकारिया आपको बताई जाएगी कि किस तरह से आपको फॉर्म भरना है कितने दिन में आपको आवेदन करना है

आपको नीचे विवाह प्रपत्र के लिए पर क्लिक करना होगा जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपको नया पेज देखने को मिलेगा

विवाह-प्रमाण-पत्र-हेतु-आवश्यक-दस्तावेज

जहां पर आपको विवाह पंजीकरण रिपोर्ट मिलेगी वहां आपको चार ऑप्शन देखने को मिलेंगे

(1) नए आवेदन हेतु
(2) पुराने आवेदन में संसोधन हेतु
(3) आवेदन स्थिति एवं सर्टिफिकेट प्रिंट
(4) आवेदन प्रपत्र प्रिंट करें


आपको नए आवेदन हेतु पर क्लिक करना होगा एवं जो crepcher code आपको लिखा मिलेगा उसे डालकर प्रवेश करें पर क्लिक करना है

[ यह आवेदन आप अपनी मर्जी की ई मित्र सेवा केंद्र से भी करवा सकते हैं ]

इसके बाद आपके सामने एक vivah panjiyan form खुलकर आ जाएगा जहां पर आपको wedding date, शादी के स्थान का पूर्ण पता निवास स्थान, वधू के पिता का नाम वर के पिता का नाम एवं वर का पूरा नाम सभी प्रकार की जानकारी भरनी होती है आपको ख्याल रखना है कि वर वधू का जो नाम आधार कार्ड में है उसी नाम को वहां पर भरना होगा क्या लिखना होगा

Vivah Panjikaran के लिए गवाह की आवश्यकता


गवाह की जानकारी में आपको दो गवाह की आवश्यकता होती है एक वधू पक्ष का गवाह और एक वर पक्ष का गवाह होता है और दोनों गवाह के आधार कार्ड की आवश्यकता होती है जिसे आपको विवाह पंजीकरण फॉर्म के साथ लगाना होता है

वर वधु की संयुक्त फोटोकॉपी अपलोड कैसे करें


आपको वर वधु की एक साथ में फोटो की आवश्यकता होती और उसे वर-वधू सहित फोटोकॉपी अपलोड पर क्लिक करके अपलोड करना होगा

सभी जानकारियां सही तरीके से भरने के बाद इंद्राज करें पर क्लिक करना होगा इसके बाद आपके पास एक one time password (OTP) आएगा जिसे आपको किसी भी keep notes पर या कागज पर लिखकर रखना है

इसके बाद आपके द्वारा भरे गए पेज का प्रिंट आउट निकाल कर आपको विवाह प्रतिवेदन पत्र के पीछे लगाना होगा

विवाह पंजीकरण फॉर्म कैसे भरें

जैसा कि आपने पहले फॉर्म में जानकारी भरी थी इसी तरीके से आपको भरना होगा पहले आपने अपने मोबाइल या कंप्यूटर से कार्य किया था पर अब आपको हाथ से लिखकर फॉर्म भरना होगा

इस फॉर्म के साथ आपको दो गवाह के आधार कार्ड की फोटो कॉपी एवं वर-वधू का जॉइंट फोटो लगाना होगा

इस फॉर्म के साथ आपको एक शपथ पत्र भी भरना होगा जिसमें एक शपथ पत्र वर के द्वारा भरा जाएगा दूसरा शपथ पत्र वधु के द्वारा भरा जाएगा

Vivah panjikaran form kahan bhare


यदि आपको यह नहीं पता है कि विवाह पंजीकरण फॉर्म कहां पर जमा करवाना है तो आपको बता दें कि सभी जानकारियां सभी फॉर्म को सही तरीके से भरने के बाद आपको वधू की ग्राम पंचायत के सचिव (ग्राम विकास अधिकारी) के पास जमा करवाना है

यह भी पढ़े - राशन कार्ड 2021 में नये सदस्य का नाम कैसे जोड़े

फॉर्म को sachiv के पास जमा करवाने के बाद आपकी विवाह पंजीकरण की जांच की जाएगी और online digital signature होने के बाद या प्रमाण पत्र तैयार हो जाएगा जिसे आप इसी वेबसाइट से पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हैं


Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad